उत्तर प्रदेश में बिना सुई लगे हो जाएगा वैक्सीनेशन, जायडस कैडिला कंपनी का कोविड टीका जल्द उपलब्ध होने जा रहा है, और इस वैक्सीन को भी पूरी तरह से मुफ्त लगाया जाएगा

0
32

उत्तर प्रदेश में कोरोना के नए वेरिएंंट ओमीक्रॉन का डर लगातार बढ़ता जा रहा है. प्रदेश में कई ऐसे मामले भी सामने आ चुके हैं, जोकि वैक्सीन लगने के बाद भी संक्रमण के शिकार हो चुके हैं. ऐसे में अब यूपी वालों को लिए राहत भरी खबर है. दरअसल, प्रदेश में जायडस कैडिला कंपनी का कोविड टीका जल्द उपलब्ध होने जा रहा है. इसकी आपूर्ति के लिए ऑर्डर भी दिया जा चुका है. यह वैक्सीन पूरी तरह से मुफ्त में लगाई जाएगी.

18 वर्ष से अधिक की उम्र वालों को लगेगी जायडस

जायडस वैक्सीन सरकारी अस्पतालों में कोवैक्सीन और कोविशील्ड की तरह ही लगाई जाएगी, जोकि पूरी तरह से मुफ्त होगी. जायडस तीन डोज वाली वैक्सीन है, इसकी एक डोज 28 दिन के अंतराल पर लगेगी. आसान भाषा में समझें तो पहली डोज के 28 दिन बाद दूसरी डोज लगेगी, और फिर 28 दिन बाद तीसरी डोज लगाई जाएगी. हालांकि, ध्यान रखने वाली बात ये है कि यह वैक्सीन सिर्फ 18 वर्ष से अधिक की उम्र वालों के लिए ही लगाई जाएगी.

पहले चरण में इन जिलों में होगा टीकाकरण

टीकाकरण एवं मातृ स्वास्थ्य के महाप्रबंधक डॉ. मनोज शुक्ल के अनुसार, 11 लाख लोगों के लिए जायडस कैडिला कंपनी की 33 लाख डोज उपलब्ध कराई जाएंगी. पहले चरण में 14 जिलों में वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगई. इसमें लखनऊ, आगरा, अलीगढ़, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली, गाजियाबाद, अयोध्या, आजमगढ़, गोरखपुर, कानपुर नगर, प्रयागराज, सहारनपुर और वाराणसी शामिल हैं.

वैक्सीन लगने पर नहीं होगा दर्द

दरअसल, वैक्सीनेशन के दौरान ऐसे कई मामले देखे जा चुकें हैं, जिनमें अधिकतर लोग सुई लगने के डर से टीकाकरण कराने से बचते नजर आते हैं. इस मामले में भी जायडस कैडिला बाकी वैक्सीन से अलग है, क्योंकि ये वैक्सीन सिरिंज की बजाय नीडल फ्री एप्लीकेटर के जरिए लगाई जाएगी. वैक्सीन लग जाएगी और लोगों को पता भी नहीं चलेगा, वैक्सीन लगने पर किसी भी प्रकार का दर्द नहीं होता है. इसका शरीर पर कोई दुष्प्रभाव भी नहीं है.