सीडीएस जनरल बिपिन रावत की अंतिम यात्रा शुरू, दर्शन के लिए दिल्ली की सड़कों पर तिरंगा लेकर उतरे लोग, अमर रहें के नारे लगाए

0
40

तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जान गंवाने वाले सीडीएस जनरल बिपिन रावत का अंतिम संस्कार दिल्ली कैंट में आज शाम 7:15 बजे किया जाएगा। दिल्ली में कामराज मार्ग स्थित उनके आधिकारिक निवास से दिल्ली कैंट के लिए उनकी अंतिम यात्रा शुरू हो चुकी है। दिल्ली कैंट बराड़ स्क्वायर में अंतिम संस्कार किया जाएगा। रावत की अंतिम यात्रा में बड़ी संख्या में लोग सेना की गाड़ियों के साथ चल रहे हैं।

जनरल रावत का अंतिम संस्कार दिल्ली कैंट में आज शाम 7:15 बजे किया जाएगा। प्रोटोकॉल के मुताबिक, जनरल रावत को 17 तोपों की सलामी दी जाएगी और इस दौरान 800 मिलिट्री पर्सनल मौजूद रहेंगे। जनरल रावत की यूनिट 5/11 गोरखा राइफल्स उनके अंतिम संस्कार की सारी व्यवस्था संभाल रही है।

शाह और डोभाल श्रद्धांजलि देने घर पहुंचे

जनरल रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत का पार्थिव शरीर उनके आवास पर लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल समेत केंद्रीय मंत्रिमंडल के सदस्य जनरल रावत को श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

ब्रिगेडियर एल.एस. लिड्डर को बेटी ने दी मुखाग्नि
जनरल रावत के साथ जान गंवाने वाले ब्रिगेडियर एल.एस. लिड्डर का आज दिल्ली कैंट के बराड़ स्क्वायर में अंतिम संस्कार किया गया। आज सुबह उनके पार्थिव शरीर को आर्मी के बेस अस्पताल से शंकर विहार में उनके आवास ले जाया गया। ब्रिगेडियर लिड्डर को अंतिम विदाई देने के लिए सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर. हरि कुमार और वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी.आर. चौधरी भी पहुंचे थे। उन्हें श्रद्धांजलि देने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी पहुंचे।