झारखंड में टला बड़ा हादसा, कोडरमा रेलवे स्टेशन पर बर्निंग ट्रेन बनने से बची कोयला लदी मालगाड़ी

0
41

डिशा के धर्मा पोर्ट कंपनी साइडिंग से कोयला लेकर उत्तर प्रदेश के फिरोज गांधी थर्मल पावर प्रोजेक्ट साइडिंग जा रही एक मालगाड़ी के डिब्बे में धुआं उठने की सूचना के बाद सोमवार की सुबह मालगाड़ी को झारखंड के कोडरमा स्टेशन पर रोका गया. इसके बाद सूचना देने पर मौके पर दमकल की गाड़ियां पहुंचीं और धुएं पर काबू पाया. इस दौरान पानी की बौछार की गयी. इससे समय रहते हादसे पर काबू पाया गया. इसके बाद मालगाड़ी को गंतव्य की ओर रवाना किया गया.

मालगाड़ी की बोगी से निकल रहा था धुआं

झारखंड के कोडरमा रेलवे स्टेशन के प्रबंधक एमके महाराज ने बताया कि गोमोह स्टेशन के समीप मेगा पावर ब्लॉक की वजह से कोयला लदी मालगाड़ी मधुपुर गिरिडीह लाइन होकर कोडरमा के रास्ते उत्तर प्रदेश अपने गंतव्य तक जा रही थी. इस दौरान मालगाड़ी के इंजन से आठवीं बोगी में धुआं निकलने की सूचना मिलने पर मालगाड़ी को कोडरमा स्टेशन पर रोका गया. इसके साथ ही इसकी सूचना रेलवे के वरीय अधिकारियों को देने के बाद दमकल को भी सूचित किया गया.

गंतव्य के लिए रवाना हुई मालगाड़ी

कोडरमा स्टेशन पर दमकल की गाड़ियां पहुंचीं और कोडरमा एवं केटीपीएस के दमकल वाहन ने मालगाड़ी की बोगी से उठते हुए धुएं पर काबू पाया. हालांकि इंजन से आठवीं बोगी में निकलते धुएं को बुझाने के बाद दमकल की टीम ने कोयला लदी मालगाड़ी के 13 अन्य बोगियों में भी धुआं निकलता हुआ पाया. इसके बाद कोयला लदे सभी 13 वैगन में पानी की बौछार कर धुएं को बुझाया गया. मालगाड़ी की बोगी से निकलते धुएं को बुझाने के बाद मालगाड़ी को अपने गंतव्य के लिए रवाना कर दिया गया है.