JPSC PT परीक्षा में 230 नंबर लाने वाले छात्र हुए पास लेकिन 272 नंबर वाले फेल

0
25

रांची : झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) द्वारा जारी सातवीं, आठवीं, नौवीं व 10वीं सिविल सेवा पीटी के रिजल्ट में गड़बडी का विरोध कर रहे अभ्यर्थियों ने दावा किया है कि रिजल्ट में 230 नंबर वाले पास और 272 नंबर लानेवाले फेल हो गये हैं.

आंदोलन कर रहे देवेंद्र नाथ महतो, प्रवीण चौधरी सहित अन्य अभ्यर्थियों ने मोरहाबादी स्थित बापू वाटिका के समक्ष 17 दिनों से चल रहे धरनास्थल पर इससे संबंधित दस्तावेज जारी किये. इधर नेताओं ने आयोग कार्यालय के समक्ष मंगलवार को महिला पुलिसकर्मी द्वारा अभद्र व्यवहार किये जाने की निंदा की है. आंदोलन कर रहे अभ्यर्थियों ने सरकार से उक्त महिला पुलिसकर्मी को बरखास्त करने की मांग की है. बापू वाटिका के समक्ष अभ्यर्थियों का धरना बुधवार को भी जारी रहा.

ये गड़बड़ियां हुईं

छात्र नेताओं ने कहा कि पीटी परीक्षाफल में गड़बड़ी का पुख्ता प्रमाण उनके पास है. लोहरदगा के क्रमवार उत्तीर्ण होने वाले सेंटर का एक मामला सामने आया है, जिसमें कम नंबर लाने वाला छात्र को पास कर दिया गया है. जिसका रोल नंबर 52236— जो 230 नंबर लाकर यानि 115 सवाल बनाकर ही पास हो गया है. जबकि इससे अधिक नंबर लाकर रोल नंबर 5230—- है, जो 272 अंक यानि 136 सवाल हल करने के बावजूद फेल है.

इससे संबंधित ओएमआर शीट भी जारी किया है. देवेंद्र महतो ने कहा कि यह तो एकमात्र उदाहरण है, ऐसी अनेक गड़बड़ियां सामने आ रही हैं. रिजल्ट में दिव्यांगों के लिए क्षैतिज आरक्षण, आदिम जनजाति आरक्षण का भी नियमानुसार पालन नहीं किया गया है. सैनिक और महिला कोटा का आरक्षण भी नहीं दिया गया, तीन-तीन सेंटर में सीरियल रोल नंबर से अभ्यर्थी पास हो गये हैं. रिजल्ट के इतने दिनों के बाद भी आयोग कट ऑफ मार्क्स जारी नहीं कर रहा है.