एशिया कप अंडर-19: भारत आठवीं बार बना चैंपियन, फाइनल में श्रीलंका को नौ विकेट से हराया

0
57

दुबई : दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गये अंडर-19 एशिया कप फाइनल में भारत ने श्रीलंका को 9 विकेट से हरा दिया है. इस प्रकार भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम ने आठवीं बार यह खिताब अपने नाम किया है. टॉस जीतकर श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और 9 विकेट पर 106 रन ही बना सकी. बारिश के कारण ओवरों की कटौती हुई और भारत को 38 ओवर में जीत के लिए 102 रनों का लक्ष्य मिला.

भारत के बल्लेबाजों ने एक खराब शुरुआत के बाद भी एक विकेट पर ही इस लक्ष्य को हासिल कर लिया. सलामी बल्लेबाज हरनूर सिंह एक मात्र बैटर थे जो आउट हुए. भारत ने 21.3 ओवर में ही 104 रन बनाकर जीत हासिल कर ली. अंगकृष रघुवंशी ने शानदार अर्धशतक जड़ा उन्होंने 67 गेंद में 56 रनों की पारी खेली. उनका साथ दूसरे छोर पर शैक रशीद ने दी. उन्होंने 49 गेंद पर 31 रन बनाए.

इससे पहले भारत ने शानदार गेंदबाजी के दम पर श्रीलंका की पारी को नौ विकेट पर 106 रन पर रोक दिया. सुबह हुई बारिश के बाद परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के अनुकूल थी लेकिन श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. राजवर्धन हैंगरगेकर और रवि कुमार की भारतीय तेज गेंदबाजों की जोड़ी ने नयी गेंद से सटीक शुरुआत की. हैंगरगेकर को किस्मत का साथ नहीं मिला. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज रवि ने चौथे ओवर में चामिंडू विक्रमसिंघे को आउट कर मैच का पहला विकेट हासिल किया. वामहस्त सलामी बल्लेबाज ने मिड विकेट के ऊपर से बड़ा शॉट लगाने की कोशिश की लेकिन गेंद थर्डमैन पर खड़े राज बावा के हाथों में चली गयी. विक्रमसिंघे के सलामी जोड़ीदार शेवोन डेनियल 11वें ओवर में बावा की गेंद पर विकेटकीपर आराध्या यादव को कैच दे बैठे. इससे श्रीलंका का स्कोर दो विकेट पर 15 रन हो गया. रिकॉर्ड सात एशिया कप खिताब जीतने वाली भारतीय टीम अब तक इस फाइनल में भी अपनी विरोधी टीम से बेहतर नजर आयी. शुरुआती 10 ओवरों में हैंगरगेकर सबसे प्रभावशाली तेज गेंदबाज रहे. उनकी तेज गति से बल्लेबाजों को परेशानी का सामना करना पड़ा. प्रभावशाली तेज गेंदबाजी के बाद कुशल तांबे और विक्की ओस्तवाल की भारतीय स्पिनरों की जोड़ी ने भी श्रीलंकाई बल्लेबाजों को परेशान किया.